Friday, June 30, 2017

बलूच अलगाववादियों का जापानी संसद को संबोधित दुखद है,

JUNE 30, 2017 | 12:00 AM

बलूच अलगाववादियों का जापानी संसद को संबोधित दुखद है, ायाज़सादक

टोक्यो (इरफान सिद्दीकी, प्रतिनिधि युद्ध) अध्यक्ष नेशनल असेंबली सरदार अयाज सादिक ने कहा है कि बलूच अलगाववादियों का जापानी संसद केअहा्े में सांसदों को संबोधित दुखद प्रक्रिया है जो जापानी सरकार आधिकारिक तौर पर व्यक्त खेद भी किया है जिस पर जापानी अधिकारियों ने क्षमा भी कर ली है यह खुलासा सरदार अयाज सादिक ने टोक्यो में पाकिस्तानी दूतावास में पाकिस्तानी समुदाय को संबोधित करते हुए, सरदार अयाज सादिक ने कहा कि बलूचिस्तान की डेढ़ करोड़ की आबादी है अगर कुछ सौ लोग दुश्मन के बहकावे में आकर जुदाई बात और उनकी बात जापान जैसे मित्र देश में भी सुनी जाए तो यह कारण ाफसो ही हो सकता है, अयाज सादिक ने कहा जापान उत्तर कोरिया के बारे में पाकिस्तान के साथ कुछ विचार हैं जिन्हें सुलझाने के लिए कूटनीतिक स्तर पर बातचीत जारी रहती है, अयाज सादिक ने अपने संबोधन में पीटीआई के हवाले से कहा कि बतौर स्पीकर वह सबको साथ लेकर चलने की कोशिश करते हैं लेकिन िमराँ खान उनके बचपन के दोस्त हैं लेकिन दो बार चुनाव में उनसे हार के बाद इमरान खान की नाराजगी आज तक बाकी है और दोनों में बातचीत बंद है, अयाज सादिक ने कहा कि चाहते तो धरने के दौरान पीटीआई के इस्तीफे स्वीकार कर सकते थे लेकिन पीटीआई के सदस्यों ने खुद पीछे उनसे संपर्क करके इस्तीफा मंजूर राजा करने का अनुरोध किया जिसे उन्होंने कानून के अनुसार स्वीकृत भी कीं जिससे पीटीआई आज भी संसद में मौजूद है, अपने भाषण के बाद अयाज सादिक ने पाकिस्तानी समुदाय के सवाल भी दिए और कुछ समाधान का वादा भी क्या, अयाज सादिक भाषण समारोह मनें जापान भर से सौ से अधिक समुदाय महत्वपूर्ण हस्तियों ने शिरकत की जिसमें पीएमएल एन, पीपीपी, पीटीआई सहित कई महत्वपूर्ण राजनीतिक और सामाजिक व धार्मिक संगठनों के सदस्यों समारोह में मौजूद थे।
Kya likkha h 👆

No comments:

Post a Comment